logop
Home

प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी स्वर्णिम महोत्सव में होगा हैरतअंगेज कारनामा



  • Share
  • अपने बालों से ट्रक खींचेगी बी के रानी


  • सतना । प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय सतना के तत्वाधान में स्वर्ण जयंती महोत्सव अवसर रविवार 10 फरवरी को बीटीआई ग्राउंड सतना में आयोजित होना है। कार्यक्रम में राजयोगिनी शीला दीदी जी का भव्य सम्मान होगा साथ ही प्रदेश के विभिन्न शाखाओ से शामिल होने आई बहनो का भी सम्मान किया जायेगा । कार्यक्रम की मुख्य आकर्षण का केंद्र गिनीज़ बर्ल्ड रिकॉर्ड धारी बी के रानी रैकवार रहेंगी। जो अपने बालो से ट्रक खींचने का कारनामा दिखाएंगी। बी के रानी ने अपने मनोबल से प्राप्त शक्ति के चमत्कार से देश ही नही बल्कि विदेश में भी अपने कौशल का प्रदर्शन किया है । स्वर्ण जयंती अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम , मैजिक शो का भी आयोजन होगा । प्रेस कॉन्फ्रेंस के माधयम से मंचासीन शाखा प्रमुख मीना दीदी ने  बताया  कि प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की सतना शाखा की स्थापना 1993 में हुई थी जो निरंतर 25 वर्षो से अनवरत ईयवरीय सेवाओं को जन जन तक पहुंचाने का कार्य कर रही है । राजयोगिनी शीला दीदी का सानिध्य सतना को मिला है जो अपने राजयोग के माध्यम से 103 वर्ष में भी त्याग व तपस्या कर रही है। जिनका सम्मान हमारे प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी आश्रम के भइया बहनो के लिए गौरव की बात है । 

    माॅ से मिला ईश्वरीय शक्ति जानने का अवसर - बी के रानी

    देश विदेश में हैरतअंगेज कारनामों से पहचान बना चुकी एवं कई उभरती प्रतिभाओं के लिए प्रेरणादायी बनी गिनीज बुक आफ रिकार्डधारी ब्रम्हकुमारी बी के रानी ने बताया कि उन्हे यह कामयाबी अपनी माॅ से मिली शिक्षा और ईश्वरीय बोध की वजह से मिली। मनोशक्ति से जीवन को सफल व सरल बनाया जा सकता है। बीते 25 वर्षों से मेडिटेशन कर रही हूॅं। अब तक 225 से ज्यादा शो कर चुकी हॅंू। मध्यप्रदेश के सिंगरौली में निर्मित हो रहे ब्रम्हाकुमारी आश्रम में पहली दफा ईट से लोड ठेला बालों से खींचा था तबसे मनोबल बढा और ये प्रदर्शन दोहराती गई फिर क्या था अब यह कला देया को गौरवान्वित कर रही है। उन्होने बताया कि आाज ब्रम्हकुमारी आश्रम के कई भईया बहिन एैसी ही कला का प्रदर्शन कर रहे हैं। 10 फरवरी को स्वर्णिम वर्ष के उपलक्ष्य में बालो से ट्रक खींचने की कला का प्रदर्शन सतना के बीटीआई मैदान में होगा।